मायके से वापस नहीं आ रही थी पत्नी, ये गम बर्दाश्त न कर सका पति और फिर जो हुआ...

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में एक पति ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की जानकारी उस वक्त हुई जब युवक के माता-पिता मंदिर से दर्शन कर घर लौटे। दरअसल, पत्नी के मायके से वापस न लौटने पर उमेश ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। दोनों की शादी को अभी पांच महीने हुए थे। यह घटना कानपुर के कर्नलगंज थाना क्षेत्र की है।
loading...
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कर्नलगंज थानाक्षेत्र इलाके के रहने वाले उमेश उर्फ पिंटू की शादी पांच महीने पहले रेनू नाम की युवती से हुई थी। शादी के बाद पति की शराब की लत के चलते पत्नी दो माह पूर्व मायके चली गई और लौटकर वापस नहीं आई। बताया जा रहा है कि तभी से वो परेशान रहता था। घटना वाले दिन युवक के माता-पिता नवरात्रि के चलते बारादेवी मंदिर दर्शन के लिए गये थे, इस बीच उमेश ने घर पर फांसी लगाकर आत्महत्या ली।
माता-पिता के मंदिर से लौटने पर बेटे के शव को फांसी पर लटका देखकर उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दी। सूचना मिलते ही कर्नलगंज थाना पुलिस मौके पर पहुंची और उसने शव को फंदे से नीचे उतारा। पुलिस के मुताबिक पत्नी के मायके से न लौटने पर युवक ने फांसी लगाई है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।