पति ने कहा पैसे लाने के लिए, नहीं लाने पर लगाए बिजली के झटके, जानिए फिर क्या हुआ

तरनतारन जिले में दहेज की मांग पूरी न होते देख पति ने अपनी पत्नी को दो बार जान से मारने की कोशिश की। पहले उसे गला घोंटकर मारने का प्रयास किया फिर दो लाख रुपये मायके से लाने को कहा। एक लाख रुपये लेकर ससुराल पहुंची पत्नी को बिजली के झटके लगाकर दोबारा मारने का प्रयास किया। पुलिस ने आरोपित पति समेत तीन के खिलाफ मामला दर्ज किया है।
loading...
कस्बा झब्बाल निवासी कुलवंत सिंह सीआरपीएफ से सेवा मुक्त है। अब वह मुबई की निजी कंपनी में तैनात है। उसने अपनी लड़की गुरप्रीत कौर का विवाह अटारी निवासी गुरबीर सिंह नामक युवक से 12 नवंबर 2017 को किया। विवाह मौके गुरप्रीत कौर के परिजनों ने काफी दहेज दिया। पति गुरबीर सिंह ने अपनी मां गुरचरनजीत कौर और बहन गुरसहिजप्रीत कौर से मिलकर अपनी पत्नी गुरप्रीत कौर को तंग करना शुरू कर दिया। 
गुरबीर सिंह ने मायके से दो लाख रुपये लाने के लिए गुरप्रीत कौर पर दबाव बनाया और 23 जुलाई 2019 को गला घोंट कर हत्या का प्रयास किया। पीड़िता मुताबिक मायके से एक लाख रुपये लाकर यह सोचकर पति को दे दी कि वह ससुराल घर में बसी रहे। एक लाख लेकर भी गुरबीर सिंह का लालच खत्म नहीं हुआ। आरोपित ने 30 अगस्त की रात को गुरप्रीत कौर को बिजली के करंट के झटके लगाकर दोबारा मारने का प्रयास किया। 

11 माह की मासूम लड़की निर्मत कौर की मां गुरप्रीत कौर को उसके परिजनों ने सिविल अस्पताल तरनतारन दाखिल करवाया। पुलिस ने मौके पर पीड़िता के बयान दर्ज कर रिपोर्ट अधिकारियों को दी। इस बीच चार सितंबर को उसने शिकायत देकर इंसाफ मांगा। उक्त शिकायत की जांच के बाद थाना झब्बाल में आरोपित पति गुरबीर सिंह, सास गुरचरनजीत कौर, ननद गुरसहिजप्रीत कौर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया।