लड़की ने की गांव के ही एक लड़के से शादी, लेकिन अब पुलिस फंस गई है

झाबुआ में फरियाद लेकर काकनवानी थाना पहुंचीं महिलाओं ने पुलिस पर मारपीट का आरोप लगाया है. इसका एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें काकनवानी थाना प्रभारी और कुछ पुलिस वाले महिलाओं पर डंडे उठाते दिखाई दे रहे हैं. महिलाओं ने आरोप लगाए हैं कि उन पर न सिर्फ डंडे उठाए गए बल्कि बरसाए भी गए हैं और जिनके निशान भी उनके शरीर पर हैं. पुलिस किसी भी तरह की मारपीट से इनकार कर रही है. पुलिस का कहना है कि उग्र भीड़ को डराने के लिए केवल डंडे उठाए गए थे. झाबुआ एसपी विनीत जैन ने कहा कि लड़की की जान बचाने के लिए पुलिस को लोगों को डराने के लिए ऐसा करना पड़ा.  लड़की ने खुद कोर्ट में बयान दिए हैं कि उसे उसके परिजनों से खतरा है.

घर से भागकर गांव के युवक से ही कर ली शादी
loading...
दरअसल काकनवानी थाना क्षेत्र के मदरानी गांव की लड़की ने प्रेम- प्रसंग के चलते घर से भागकर गांव के एक युवक से शादी कर ली. लेकिन लड़की के परिजनों को इस शादी से एतराज था, 26 जून को लड़की के परिजनों ने काकनवानी थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई. बाद में लड़की और लड़के दोनों उज्जैन मंदिर में शादी करने के बाद इंदौर के एरोड्रम थाने में पेश हुए थे, जहां से उन्हें काकनवानी लाया गया. जिसके बाद लड़की के बयान के लिए थांदला एसडीएम कोर्ट में लाया गया. बयान के बाद जब पुलिस लड़की काकनवानी थाने ले गई. तब वहां पर मौजूद भीड़ ने लड़की के साथ मारपीट की.