पत्नी का था दोस्त से सम्बन्ध तो पति ने दोस्त के साथ किया ऐसा काम की 1 महीने बाद पकड़ाया

16 सितंबर की रात एनएच 91 स्थित बिलसूरी फ्लाईओवर पर खड़े में ट्रक के केबिन में चालक का शव मिला था। मृतक की पहचान दीपक पुत्र चन्द्रपाल निवासी गढ़ी मल्लू थाना इग्लास जनपद अलीगढ़ के रूप में शिनाख्त हुई थी। मृतक के पिता ने चंद्रपाल ने धीरज निवासी शेरपुर थाना पिसावा अलीगढ़ पर लेनदेन के विवाद हत्या करने का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने मोहनकुटी बुलंदशहर निवासी जोगेन्द्र पुत्र बबलू को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की गई तो हत्या का राजफाश हुआ। 
loading...
जोगेन्द्र ने बताया उसका मामा धीरज और दीपक एक ही कंपनी में ट्रक चालक थे और दोनों का एक-दूसरे के घर आना जाना था। इस दौरान दीपक के धीरज की पत्नी से संबंध हो गए। इस बात को लेकर कई बार दोनों में विवाद भी हुआ। 16 सितंबर को दीपक बदायूं से ट्रक लेकर बुलंदशहर पहुंचा तो ट्रक मोहनकुटी के पास खराब हो गया था। मदद के लिए दीपक ने धीरज को फोन बुला लिया। धीरज अपने भांजे जोगेन्द्र के साथ मोहनकुटी पहुंच गया। 
यहां ट्रक सही होने के बाद तीनों ने शराब पी और बाद में नशा अधिक होने पर धीरज और दीपक में विवाद शुरू हो गया। विवाद बढ़ने पर दीपक ट्रक लेकर भाग निकला और बिलसूरी के पास ट्रक खड़ाकर सो गया। उधर, पीछा करते हुए धीरज और जोगेंद्र भी बिलसूरी पहुंच गए। यहां उन्होंने दीपक की गमछे से गलाघोंट कर हत्या कर दी। फरार आरोपित धीरज की गिरफ्तारी के लिए टीम लगी है। वहीं आरोपित जोगेन्द्र को पुलिस ने न्यायिक हिरासत में भेजा है।

हादसे के बाद पहुंच गई थी पुलिस
16 सितंबर की रात बुलंदशहर के गांव ततारपुर निवासी मनोज बाइक से सिकंदराबाद से आते हुए बिलसूरी फ्लाईओवर खड़े ट्रक से टकरा गया था। घायल की मौके पर मौत हो गई थी। हादसे की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के भेजने के दौरान खड़े ट्रक की जांच की थी। जिसमें चालक को शव केबिन में पड़ा मिला था।