12 साल की बहादुर बेटी, जो मां को मौत के मुंह से खींच लायी, जानिए उसके बहादुरी के बारे में

यूपी के भदोही जिले के सुरियावां बहादुरान गांव में शनिवार को मासूम बेटी अपनी सूझबूझ से अपनी मां को मौत के मुंह से खींच लायी। बहादुर बेटी की जमकर तारीफ हो रही है। बेटी की वजह से एक मां की जान बच गई। मौके पर मौजूद बेटी की सूझबूझ में तनिक भी देर होती तो शायद इस उसके सर से मां का साया ही उठ जाता।
loading...
भदोही जिले के सुरियावां थानान्तर्गत तुलापुर बहादुरान गांव निवासी मदनानंद गिरि के बेटे प्रकाश गिरि की पत्नी सरोजा देवी शनिवार को पंखे के पास बैठी थी। वो गर्मी की वजह से पंखे को अपनी तरफ घूमाने लगीं। उसी दौरान पंखे में प्रवाहित हो रहे करंट की ज़द में आ गयीं। पास में खड़ी बेटी ममता (12) मां की हालत देख परेशान हो उठी। बेटी ने मां को संभालना चाहा तो उसे करंट लग गया।
उसे समझते देर नहीँ लगी की मां करंट की चपेट में आ चुकी है। बेटी ममता ने समय पर दिमाग का इस्तेमाल करते हुए पास पड़े सूखे डंडे को मां के हाथ पर चला दिया। प्रकाश गिरि ने बताया कि बेटी की सूझबूझ से जहां उनकी पत्नी की जान बच गई, वहीं बेटी की इस बहादुरी की तारीफ के लिये उनके पास शब्द नहीं थे। ममता की इस बहादुरी से पूरा परिवार खुश है, क्योंकि एक जिंदगी बच गई है।