नयी दुल्हन को पता चला पति का ये ‘राज़’, शादी के कुछ समय बाद ही दे दिया अपनी जान

आज के जमाने में लोगो की सहन शक्ति इतनी कम हो चुकी है कि छोटी से छोटी बात भी लोगो को अंदर तक तोड़ जाती है जिससे परेशान होकर वह अपनी  जीवन लीला समाप्त कर देते हैं. कुछ ऐसा ही हाल इस युवती के साथ भी हुआ. शाहपुर जिले में शनिवार रात को एक नवविवाहिता युवती ने पंखे से लटक कर अपनी जान दे दी. शादी हर लड़की का एक हसीं ख्वाब होती है. इसके लिए हर लड़की जाने क्या क्या सोचती रहती है. लेकिन, ऐसे में नई नई शादी में ऐसा क्या था जो इस युवती को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा? चलिए जानते हैं आखिर पूरी ख़बर क्या है..

पति का राज़ था उसके मौत की वजह
loading...
शनिवार देर रात एक युवती ने पंखे से लटक कर अपनी जान दे दी. पुलिस ने मौके पर पहुँच कर युवती की लाश को बरामद कर लिया है. जानकारी के अनुसार इस युवती की शादी सात महीने पहले हई थी. तब से वह मायके में रह रही थी. अभी साथ दिन पहले ही वह अपने ससुराल लौटी तो उसको अपने पति का एक ऐसा राज़ पता चला जिसने उसको अंदर तक झकझोर के रख दिया. जानकारी के अनुसार पूजा कुमारी अभी केवल 20 साल की ही थी. उनकी शादी इश्वार्पुरा, मंसिंघ्पुर के रेलवे अधिकारी मनोज कुमार महतो के साथ हुई थी. उसके पति मनोज का किसी के साथ अफेयर चल रहा था. जिसके चले वह पूजा से दूरी बनाये रखता था. पुलिस का कहना है कि मृतका पर दहेज़ और प्रताड़ना के आरोप में उसके पति, सास , ससुर समेत पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

मरने से पहले से ही थे उसके गर्दन पर निशान
घटना के बाद करनामेपुर ओपी प्रभारी शंभू कुमार घटना की जानकारी मिलने के बाद ईश्वरपुरा-मानसिंगपुर गांव पहुंचे. पुलिस ने मनोज महतो के तीन मंजिला मकान के ग्राउंड फ्लोर से पूजा का शव बरामद कर लिया है. पुलिस द्वारा की छानबीन के बाद ये बात सामने आई है कि पूजा के गर्दन पर कुछ निशाँ थे. इन निशानों से देख ऐसा लग रहा था जैसे उसको किसी ने खुद गला घोंट कर मारा हो. पुलिस को पूजा की लाश उनकेआर के सीलिंग फैन से लटकती हुई मिली थी. जानकारी के अनुसार पूजा के गले में सफ़ेद गम्छा था जिसको पुलिस ने टेस्टिंग के लिए लैब भिजवा दिया है.
दुर्गात्त सिंह की बेटी पूजा की शादी 9 अप्रैल 2017 में हुई थी. पूजा के पिता ने बताया कि शादी के बाद उसको रोजाना दहेज़ के लिए प्रताड़ित किया जा रहा था. अभी  उन्होंने उसको वापिस ससुराल भेजा था. जिसके बाद तीन दिन लगातार उसको मारा पीटा जाता रहा था और अंत में उसको मार कर सुसाइड बना दिया गया. दुर्गत सिंह का कहना है कि उन्होंने अपनी ज़मीन बेच कर अपनी बेटी की शादी की थी. तब उन्हें इस बात की ख़बर नहीं थी कि उनके दामाद के अपने रिश्तेदार की बेटी के साथ नाजायज़ सम्बन्ध थे. अभी दुर्गत सिंह पुलिस से इन्साफ की गुहार लगा रहे हैं.