पूरा नहीं था होमवर्क इसलिए रच दिया इतनी बड़ी साजिश, जानें क्या है पूरा मामला

जोधपुर शहर में एक छात्र के अपहरण के प्रयास की खबर से सनसनी फैल गई थी और इस वारदात ने पुलिस की नींद उड़ा कर रख दी थी। वहीं अब पुलिस ने दावा किया है कि छात्र की ओर से बताई जा रही अपहरण की बात झूठी है। पुलिस ने बताया कि छात्र शिवम चौपासनी हाउसिंग बोर्ड स्थित एक निजी स्कूल के कक्षा छठी का विद्यार्थी है। 
loading...
वह पिछले पांच-छह दिनों से होमवर्क करके नहीं आ रहा है। महिला टीचर की ओर से मंगलवार को होमवर्क की कॉपी चेक की जानी थी। होमवर्क कॉपी की जांच से बचने के लिए छात्र ने अपहरण की झूठी कहानी रच डाली। छात्र ने सवा बारह बजे बाद अपहरण का समय बताया है। जबकि वैन चालक उसे घर से स्कूल तक छोडऩे के बाद दोपहर 12.35 बजे तक स्कूल के बाहर ही खड़ा था। 
पहली पारी की छुट्टी होने पर सैंकड़ों बच्चों की भीड़ रहती है। एक सहपाठी ने शिवम को स्कूल के अंदर आने की बजाय बैग लेकर दूसरी दिशा में जाते देखा था। जिसपर वह भी उसके पीछे गया था। दूसरे सहपाठी ने देखा तब शिवम के पास बैग नहीं था। मौके व आसपास के सीसीटीवी फुटेज में कोई भी संदिग्ध वैन नजर नहीं आई है।