भाभी गई थी अपने ननद से मिलने लेकिन 6 दिन बाद इस हाल में पाई गई, जानें क्या है पूरा मामला

लुधियाना में अपनी पति के संग ननद के घर कुल्लू गई 1 बच्चे की मां संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हो गई जिसका 6 दिनों बाद शव बरामद हुआ। मृतका के शरीर पर एक भी कपड़ा नहीं था और पहचान मिटाने के लिए चेहरे को आग लगाई गई थी लेकिन परिजनों ने बाजू पर बने टैटू से उसकी पहचान कर ली। इस मामले में ससुराल पक्ष के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर परिजनों ने मंगलवार को पुलिस कमिश्नर को लिखित शिकायत दी है।
loading...
बता दें की विशाल कुमार निवासी न्यू माधोपुरी ने बताया कि उन्होंने लगभग 4 वर्ष पहले अपनी बहन दीक्षा की शादी मायापुरी के रहने वाले युवक के साथ की थी। उनका एक 3 वर्षीय बेटा है। शादी के बाद से ही ससुराली अक्सर दीक्षा को परेशान करते थे। गर्मियों की छुट्टियों के चलते बेटी की ननद कुल्लू से मायके घर आई हुई थी जिसे गत 23 जून को उसकी बहन व जीजा छोडऩे के लिए गए थे। गत 26 जून को उनकी बहन संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हो गई।
इस बात का पता चलने पर वे कुल्लू गए। उनकी बहन का मोबाइल नंबर भी बंद आ रहा था। काफी तलाश करने पर भी उसका कुछ पता न चल सका। 6 दिनों बाद गत दिवस (1 जुलाई को) उन्हें पता चला कि उनकी बहन का शव क्षत-विक्षत अवस्था में शव बरामद हुआ है जिसके बाद वे तुंरत कुल्लू पहुंच गए। परिजनों का आरोप है कि ससुराल पक्ष की तरफ से दीक्षा की हत्या की गई है। उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर पुलिस को लिखित शिकायत दी गई है, ताकि उन्हें इंसाफ मिल सके। वहीं दूसरे पक्ष ने उक्त सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया है।