दहेज में नहीं दी फार्रच्यूनर कार तो पत्नी और साले का कर दिया बुरा हाल

दहेज में फार्रच्यूनर कार नहीं मिलने से नाराज पति ने तीन अन्य साथियों के साथ मिलकर बाइक सवार पत्नी व साले पर तेजाब डाल दिया और फरार हो गया। पत्नी के मुंह पर कपड़ा ढका होने के कारण उसका चेहरा झुलसे से बच गया। पत्नी के दायां हाथ व पैर तेजाब से झुलसे गए। साले के भी दायां हाथ व पैर झुलस गए। दोनों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया हैं।
थाना चांदीनगर क्षेत्र के ग्राम भैडापुर निवासी प्रियंका का विवाह मार्च 2018 में दिल्ली निवासी लड़के से हुआ था। विवाह में कार के लिए 11 लाख रुपये भी दिए गए थे। आरोप हैं कि विवाह के बाद से युवक व उसके परिजन दहेज में टोयाटा फार्रच्यूनर कार की मांग करने लगे। इस मांग को लेकर ससुराली आए दिन प्रियंका के साथ मारपीट करते थे। इसी के चलते चार माह पूर्व प्रियंका अपने मायके में आकर रहने लगी

दो वर्ष पूर्व उसने लड़की थाने में आरोपित ससुरालिजनों के खिलाफ तहरीर दी। लड़की पुलिस दोनों पक्षों के बीच सुलह कराने के लिए काउंसलिंग करा रही थी। रविवार को भी पुलिस लाइन में काउंसलिंग की तारीख थी। सुबह गांव से प्रियंका अपने छोटे भाई सचिन के साथ बाइक से पुलिस लाइन आ रही थी। दोपहर साढ़े 12 बजे ग्राम पाली के पास कार में सवार पति ने उन्हें रोक लिया। पति के साथ तीन साथी भी थे।
पति ने कार में से एक तेजाब की बोतल निकाली और पत्नी व साले के ऊपर फेंक दी। पत्नी के मुंह पर कपड़ा ढका होने के कारण उसके चेहरे पर तेजाब नहीं गिर पाया। पत्नी व साले के दाये हाथ व पैर पर तेजाब से झुलस गए। इस बीच पति साथियों के साथ कार से भाग गया। घटना की सूचना से पुलिस में हलचल मचा दी। दोनों झुलसे हुए भाई व बहन को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। एएसपी रणविजय सिंह व कोतवाल उमेश रोरिया ने जिला अस्पताल पहुंचकर पीड़ितों से मामले की जानकारी हासिल की। एएसपी ने बताया कि मामले की जांच कर कार्रवाई की जाएगी।