पल भर में तबाह हो गई प्रहलाद की हंसती खेलती हुई दुनिया...!

लालगंज थानाक्षेत्र के कृष्णानगर देईसांड़ निवासी प्रहलाद की खुशियां पलभर में तबाह हो गईं। उनके दो बच्चों की सरयू नहर में नहाते वाक्य डूबने से मृत्यु हो गई। इसके पूर्व एक हादसे में उनका पैर भी फ्रैक्चर हो गया था।
प्रहलाद के छोटे भाई प्रमोद की सप्ताह भर पूर्व विवाह थी। उसी में इक्कठा होने के लिए वह फरीदाबाद हरियाना से पत्नी और तीन बच्चों के साथ घर आए थे। भाई की विवाह संपन्न होने के बाद बुधवार को वह अपने बच्चों चांदनी उर्फ खुशी, काली प्रसाद उर्फ राज व किशन को घर पर छोड़कर अपने पैर का एक्स-रे कराने बस्ती गए थे। 

इसी बीच गांव के अन्य बच्चों के साथ उनके तीनों बच्चे सरयू नहर में नहाने चले गए। किशन को छोड़ दोनों बड़े भाई बहन नहर में नहाते वक्त गहरे पानी में चले जाने से डूब गए। प्रहलाद के दोनों बच्चों की मृत्यु से विवाह की खुशी वाले घर में मातम पसर गया। प्रहलाद की पत्नी के चीत्कार से लोगों की आंखें नम हो जा रहीं है। भाई की विवाह से वापस आते वक्त सड़क दुर्घटना में प्रह्लाद का पैर फ्रैक्चर हो गया था। मृतकों के सबसे छोटे भाई 7 वर्षीय किशन ने रोते हुए कहा है कि दीदी और भइया उसे मिलकर पढ़ाते थे।