मोहब्बत हुआ तो नशेड़ी प्रेमी से मिलने इंडिया आ गई, अब नशा छुड़ाने के लिए हर पल कर रही है ये काम

लैला-मजनू, हीर-रांझा और रोमियो-जूलियट की प्रेमकहानी तो पुरानी हो गई. अब जमाना है नई कहानियों का. आइए जानते हैं नए जमाने की अद्भूत प्रेम कहानी से जुड़े कुछ खास पहलुओं के बारे में कि किस तरह यह कहानी प्रेमियों के लिए प्रेरणा का अद्भूत स्रोत साबित हो सकती है.
loading...
ये कहानी है पंजाब के गुरदासपुर जिले के गांव संदल की. जहां मलकीयत नामक युवक से सोशल मीडिया के जरिये डेनमार्क की मारिया की दोस्ती हो गई. प्रेम इतना बढ़ गया कि मारिया मलकीयत को जीवनसाथी बनाने के लिए डेनमार्क से भारत आ गई. भारत आने के बाद उसे पता चला कि जिससे वो प्यार करती है वो नशे का आदी है. इसके बाद उसने मलकीयत को नशा छोड़ने के लिए मोटीवेट किया और यहां तक की वो उसके साथ नशा मुक्ति केंद्र में साथ रह रही है.
मलकीयत ने कहा  कि वह शराब पीता था, जिसे छोड़ने की चाहत जागी और डॉक्टर से मिला तो उसने एलप्रेक्स की गोलियां खाने के लिए दे दीं. उसे गोली खाने की ऐसी लत लगी कि वह गोलियों का पूरा पत्ता खाने लग गया. इतना ही नहीं, फ्लूड का नशा भी करना शुरू कर दिया.
मलकीयत के पास जमीन काफी होने के वजह से पैसे की कमी नहीं थी, जिसके चलते वह नशे के दलदल में धंसता चला गया. इस बीच उसकी दोस्ती 1 जनवरी 2019 को इटेलियन चैट प्लेटफार्म पर डेनमार्क निवासी मारिया के साथ हुई. गिने-चुने 22 दिन के बाद 23 जनवरी को मारिया मलकीयत से मिलने के लिए भारत आ पहुंची.
यहां आकर वेलेंटाइन डे के अगले दिन दोनों ने विवाह कर भी कर ली. मलकीयत को शादी के बाद जब घर से अधिक पैसे मिलने लगे तो उसने हेरोइन का नशा करना शुरू कर दिया. जबकि वह अपनी पत्नी को भारत आने से पूर्व ही बता चुका था कि नशा करने का आदी है. इसके बाद पत्नी ने नशा न करने के लिए प्रेरित करना शुरू कर दिया.
मलकीयत ने बताया कि उसकी पत्नी का वीजा समाप्त होने पर 12 मार्च को वह उसके साथ सर्बिया चला गया. वहां नशे की कारण से उसकी हालत खराब हो गई तो उसकी पत्नी मारिया उसका सहारा बन उसे डॉक्टर के पास लेकर गई.
कुछ वक्त तक इलाज कराने के बाद जब कोई प्रभाव नहीं पड़ा तो दोनों 7 मई को भारत लौट आए. इस बीच वह लगातार नशा करता रहा. अब पत्नी के कहने पर नशा छोड़ने की ठान चुका मलकीयत ही नहीं, बल्कि उसका हर पल साथ देने का वादा करने वाली पत्नी मारिया भी नशामुक्ति केंद्र में साथ रह रही है.