डेनमार्क से आई प्रेमिका ने ऐसे छुड़ाई प्रेमी के नशे की लत..!

पंजाब की इस रियल स्टोरी के जरिए समझा जा सकता है कि प्रेम इनसानी जिंदगी को कैसे बदलता है। पंजाब के नशे के आदि मलकीत सिंह की जिंदगी Whatsapp पर अचानक आए मैसेज ने बदल दी। गुरदासपुर के रहने वाले मलकीत सिंह की डेनमार्क की रहने वाली नताशा से अचानक बात प्रारम्भ हुई। 
इसे महज संयोग कह सकते हैं कि मैसेज से प्रारम्भ हुई यह बातचीत फोन पर बातचीत तक पहुंच गई। मलकीत नशे का आदि था और यह बात वो नताशा को भी बता देना चाहता था। लेकिन उसे झिझक थी कि कहीं इससे बात बिगड़ न जाए। लेकिन एक दिन उसने हिम्मत जुटाकर अपनी नशे की आदत के बारे में नताशा को बता डाला।

बुरी लत के बारे में बताया
दिलचस्प ये है कि नशे की बात सुनने के बात नताशा ने उससे संबंध तोड़ा नहीं बल्कि इस बुरी आदत को छुड़ाने की ठान ली। नताशा मलकीत की इस आदत को छुड़ाने के लिए डेनमार्क से गुरदासपुर आई और यहीं रहकर प्रयाश की कि मलकीत नशे की इस बुरी आदत से बाहर आ जाए। बात न बनती देख मलकीत को लेकर नताशा डेनमार्क चली गई। लेकिन वहां भी मलकीत को नशा छोड़ने में परेसानी आ रही थी।

नशा छुड़ाने की प्रयाश
दोनों फिर एक साथ गुरदासपुर वापस लौट आए और विवाह का फैसला किया। कोर्ट मैरेज के नताशा ने मलकीत को नशामुक्ति केंद्र में भर्ती करा दिया। मलकीत अभी गुरदासपुर के रेडक्रॉस नशा मुक्ति केंद्र में भर्ती है और नशे से लगभग मुक्ति पा चुका है। 
मलकीत की इच्छा है कि वह नशे से पूरी तरह से मुक्त हो जाए और बाकी जिंदगी नताशा के साथ गुजारे दोनों की जिंदगी बदल रही है। मलकीत नशे की आदत से मुक्ति पाकर नताशा के साथ डेनमार्क जाने की तैयारी में है।