लोग कहते थे 'हिजड़ा' तो लड़के ने उठाया बड़ा कदम और अंत में लिखा, "भगवान से पूछने जा रहा हूँ की मुझे ऐसा क्यों बनाया"

loading...
समलैंगिक होने के वजह कथित भेदभाव से दुखी मुंबई के 19 वर्ष के एक लड़के ने यहां समुद्र में कूदकर खुदकुशी कर ली।अविंशु पटेल ने मरने से पहले फेसबुक पर हिन्दी और अंग्रेजी भाषा में एक पोस्ट भी लिखा हैं।जिसमें उसने खुदकुशी के फैसले के लिए किसी को जिम्मेदार नहीं ठहराया हैं।
अविंशु ने दो जुलाई को हिन्दी में किये पोस्ट में कहा कि मैं एक लड़का हूं,सभी यह जानते हैं।लेकिन मैं जिस तरह से चलता हूं,सोचता हूं,भाव व्यक्त करता हूं,बात करता हूं,वह लड़की की तरह हैं।भारत के लोगों को यह पसंद नहीं आता हैं।
अंग्रेजी पोस्ट में उसने लिखा कि मुझे उन अन्य देशों पर गर्व है जो समलैंगिक लोगों और ट्रांसजेंडरों को सम्मान देते हैं। मुझे अपने सहयोगी भारतीयों पर भी गर्व हैं।
एक स्पा में काम करने वाले पटेल ने कहा कि यह मेरी गलती नहीं है कि मैं समलैंगिक हूं, यह भगवान की गलती है,मुझे अपनी जिंदगी से नफरत हैं।
पुलिस ने कहा कि स्थानीय लोगों ने तीन जुलाई को पुलिस को सूचना दी थी कि यहां इनजामबक्कम में समुद्रतट पर उसका लाश पड़ा हैं।