जिस बेटी का बड़े नाज और मोहब्बत से किया शादी फिर क्यों बाप ने अब उजाड़ दिया उसका मांग..!

गुजरात के अहमदाबाद जिले में ऑनर किलिंग का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां पर एक दलित युवक की उसकी पत्नी के रिश्तेदारों से तलवार से गला काटकर हत्या कर दिया। लड़की उच्च जाति की बताई जा रही थी और दोनों ने लड़की के परिवार वालों की मर्जी से शादी भी की थी। ये घटना अहमदाबाद जिले के मंडल तालुका का है, जहां पर सोमवार शाम को हरेश सोलंकी को उसकी पत्नी उर्मिलाबेन जला के गांव में ससुराल वालों ने मार डाला।

पत्नी को ससुराल लेने गया हुआ था शख्श
सोमवार शाम को हरेश सोलंकी अपनी पत्नी को लेने गांव वर्मोर गए, जहां पर वो अपने परिवार वालों के साथ ही रह रही थी। हरेश महिला हेल्पलाइन के सदस्यों के साथ अपनी पत्नी उर्मिला की सेहत के बारे में पूछताछ करने और उसे उसके ससुराल से वापस लाने के लिए ही गया था। पुलिस के मुताबिक कच्छ जिले के गांधीधाम शहर में रहने वाले हरेश सोलंकी ने छह महीने पहले ही उर्मिलाबेन जला से इंटरकास्ट मैरिज किया था। शादी के बाद से ये दोनों कच्छ के गांधीधाम कस्बे में रह रहे थे।

दो महीने पहले ही गई थी मायके
पुलिस ने बताया कि दो महीने पहले ही हरेश के ससुर दशरथसिंह जला अपनी बेटी से मिलने गांधीधाम आए और उसे अपने साथ वर्मोर गांव ले गए। उसके ससुर ने हरेश से कहा कि वह जल्द ही उसके साथ वापस आ जाएगी। इसके बाद वह अपने पिता के साथ वर्मोर चली गई और वहीं परिवार वालों के साथ रह रही थी। 

उर्मिला दो महीने की गर्भवती थीं। इसी के चलते उर्मिला की सेहत से जुड़ी कोई खबर न मिलने की वजह से हरेश परेशान हो गया। इसके बाद सोमवार की दोपहर को हरेश सोलंकी मंडल शहर पहुंचे और महिला हेल्पलाइन की टीम से मुलाकात की। हरेश ने अपनी लव मैरिज की बात उन्हें बताई और मदद करने की मांग की।

हरेश का जीप में ही किया हत्या
हरेश की पत्नी उर्मिला के पिता दशरथसिंह जला ने हेल्पलाइन टीम से कहा कि वो एक महीने के भीतर ही उसको ससुराल भेज देंगे। हमले की आशंका को देखते हुए जीप में ही रखा गया। इसके बाद जब महिला हेल्पलाइन टीम के सदस्य उर्मिला के घर से जीप की तरफ निकले। इसी दौरान उर्मिला के परिवार के सदस्यों ने हरेश सोलंकी को जीप के अंदर देखा और उस पर हमला कर दिया।

इसके बाद उसे जीप से खींचकर धारधार हथियार से उसकी बेरहमी से हत्या कर दी। पुलिस ने 8 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। इस मामले के सभी आरोपी वर्मोर गांव के निवासी हैं। अहमदाबाद जिला पुलिस का कहना है कि उन्होंने आरोपियों को पकड़ने के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया है।