मुस्लिम महिला ने अपना नाम गीता बताकर पुजारी से किया शादी, अगले दिन खुली पोल तो जानिए क्या हुआ

मध्य प्रदेश राजगढ़ जिले में लुटेरी दुल्हन की शादी का ऐसा मामला सामने आया है जहां एक शादीशुदा मुस्लिम महिला ने स्वयं को हिंदू बताते हुए एक पुजारी से विवाह रचाई और अगले ही दिन भागने के कोशशि में पुलिस द्वारा पकड़ी गई.
loading...
मामला राजगढ़ के खिलचीपुर के गादिया कला गांव का है, यहां एक पुजारी से दलाल ने सवा लाख रुपए लेकर एक शादीशुदा मुस्लिम महिला को हिंदू बताकर पुजारी से करा दी. महिला ने विवाह के अगले ही दिन भागने के कोशशि किया तो लोगों ने उसे रोका. इसके बाद महिला ने हंगामा खड़ा कर दिया. खबर मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया.
पुलिस के मुताबिक गादिया कला गांव के मंदिर का पुजारी अशोक काफी वक्त से अपनी शादी के कोशशि में था. इसका फायदा उठाते हुए दलाल नारायण ने सवा लाख रुपए में उसकी विवाह करवाई. उसने पहले तो एक मुस्लिम महिला को गीता बताकर अशोक से मिलवाया, इसके बाद महिला को राजगढ़ बुलाते हुए मंदिर में दोनों का विवाह करवा दिया. बाद में कोर्ट मैरिज कराने की बात कर वह सवा लाख रुपए लेकर निकल गया.
विवाह के बाद गादिया कला पहुंची महिला ने बीमार होने का बहाना बनाना और इलाज के लिए खिलचीपुर लाने पर वहां से भागने का कोशशि किया किन्तु पुलिस ने उसे पकड़ लिया.महिला ने पुलिस के सामने सारी कहानी बताई. उसका नाम हिना खान है और शादीशुदा है. वह मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा की रहने वाली है. पुलिस उसे गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है. जबकि अभी दलाल नारायण सिंह का कुछ मालूम नहीं चल पाया है.