नैनी जेल में बंद कैदी महिला के साथ दिखा वीडियो चैट करता, सोशल मीडिया पर हो गया वायरल

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में स्थित नैनी सेंट्रल जेल में कैदियों के शराब मुर्गा पार्टी की खबरों से मचे भूचाल व कार्रवाई के बीच ही एक बार फिर से तस्वीरें वायरल हुई हैं। इस बार एक कैदी के एक महिला से वीडियो चैटिंग की स्क्रीन शॉट की तस्वीर भी जेल से बाहर आई है और पूरे जेल प्रशासन में हड़कंप मच गया है। स्क्रीन शॉट की यह फोटो अब सोशल मीडिया पर भी काफी वायरल हो गई है।

हत्‍या का अरोप है एहतेशाम जैदी पर
loading...
मिली जानकारी के अनुसार, वायरल फोटो में दिख रहा शख्‍स नैनी सेंट्रल जेल में बंद हत्यारोपी एहतेशाम जैदी है, जो की कानुपर की एक महिला के साथ वीडियो कॉल पर चैटिंग कर रहा है। लाइव चैटिंग के दौरान ही स्क्रीन शॉट से फोटो ली गई है और अब ये वही सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है। हालांकि, जेल प्रशासन ने इससे साफ इनकार किया। जेल प्रशासन की ओर से बाताया गया कि यह तस्वीर जेल की ही नहीं है। हालांकि, पिछली बार भी जब शराब मुर्गा पार्टी की फोटो बाहर आई थी तब भी जेल प्रशासन ने दीवार आदि का रंग दूसरा बताकर मामला दबाना चाहा, लेकिन जांच के बाद फोटो जेल के अंदर की ही निकली और इस पर कई अधिकारियों पर कार्रवाई भी हुई। 
  
जानिए क्या दिख रहा तस्वीर में
इस समय जो तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है और मीडिया में सुर्खियां बटोर रही है, उसमें जैदी नाम का एक हत्यारोपी दिखाई दे रहा है। कान में ईयर फोन लगाकर वीडियो कॉल पर बात कर रहा है। तस्वीर में ऊपर की ओर बाईं तरफ पॉप अप विंडो में वह महिला भी दिख रही है, जिससे वह बात कर रहा है। इसी फोटो को लेकर अब एक हड़कंप मचा हुआ है। इस मामले में वरिष्ठ जेल अधीक्षक एचबी सिंह का कहना है कि तस्वीर में जो ईजी चेयर व दीवार का बैकग्राउंड दिख रहा है, वह जेल के अंदर का नहीं है।

इसके पीछे ये है मामला 
आपको बता दें की पुलिस के अनुसार, दो सप्ताह पहले ही कानपुर की एक महिला ने एसएसपी व जेल सुपरिटेंडेंट से शिकायत की थी कि नैनी जेल में बद जैदी नाम का कैदी उसे सोशल मीडिया के माध्यम से अश्लील मैसेज भेज रहा है और धमकी दे रहा है। महिला ने आरोप लगाया था कि जैदी की कुल 7 फेक आईडी फेसबुक पर हैं, जिससे वह लगातार उसको परेशान कर रहा है। 
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वायरल तस्वीर में जो महिला दिख रही है वह वही शिकायतकर्ता है और उसने वीडियो कॉलिंग के दौरान ही स्क्रीन शाट लेकर सोशल मीडिया पर उसको वायरल किया है। मामले में डीआईजी जेल बीआर वर्मा ने बताया कि जिस महिला ने आरोप लगाया है, उसका बंदी से पुराना विवाद चल रहा है। इस ममाले में वरिष्ठ जेल अधीक्षक से रिपोर्ट मांगी गई है। अभी तक फोटो के फेक होने की प्रारंभिक जानकारी मिली है।