एक महीने भी नहीं चल सकी प्यार की डोर, विवाह तोड़ने को कोतवाली पहुंच गई पत्नी, जानिए क्या है मामला

एक माह पहले हुई षादी टिक नहीं सकी। पति अपनी नवविवाहिता बीवी  को घर ले जाने की मिन्नतें कर रहा था। किन्तु बीवी उसके साथ जाने से मना करती रही। युवक ने एक माह पहले ही अपनी विवाह को सब रजिस्ट्रार दफ्तर में पंजीकृत कराया है। माह जून में प्रेमी युगल से पति पत्नी बने जसपुर निवासी युवक युवती ने सब रजिस्ट्रार दफ्तर में अपनी शादी का पंजीकरण कराया था।
एक माह तक सब ठीक चलता रहा। किन्तु गुरूवार को दोनों के रिश्ते में दरार आ गई। विवाहिता अपने परिजनों को साथ लेकर कोतवाली पहुंच गई। वहां पर उसने पुलिस को कहा कि वह अपने पति के साथ नहीं रहना चाहती है। उसने पति के साथ न रहने के बारे में कुछ नहीं बताया। पति ने उससे घर चलकर बात करने की बात किन्तु विवाहिता ने उससे बात करने से मना कर दिया।
तकरीबन एक घंटे तक चले ड्रामे के पति अपनी शादी के कागजात दिखाता रहा। किन्तु विवाहिता ने उसके साथ जाने से इनकार कर दिया। कोतवाल ने बताया कि दोनों बालिग है। तथा अपनी इच्छा से रहने के लिए स्वतंत्र है। दोनों अपनी बात बताकर कोतवाली से चले गए।