एक ओर बहन की डोली उठ रही तो दूसरी ओर भाई की अर्थी, जानेंगे तो आप भी रो पड़ेंगे

देश के अलग अलग हिस्सों में आये दिन ना जानें कितनी घटनाएं होती हैं जिनमें से कुछ लोगों को हिला देने वाली होती हैं तो कुछ भावुक करने वाली होती हैं।ऐसी ऐसी घटनाओं के बारे में सुना होगा और देखा भी होगा जिसे कोई भी देखकर परेसान हो जाएगा आज हम आप को कुछ ऐसी ही घटना के बारे बताने जा रहे जिसे सुनकर आप भी रो पड़ेंगे।
loading...
एक तरफ बहन की डोली की तैयारी चल रही थीं।तो दूसरी तरफ भाई की अर्थी की तैयारी होने लगी।जहाँ खुशियों को मनाया जा रहा था वहां पर अब मातम का शोर था। यह घटना सामने आई है उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद से तो चलिए जानते है पूरा सच इस घटना कर बारे में।

इस जिले के थाना मउदरवाजा क्षेत्र के ग्राम कुइयाबूट के रहने वाले राकेश बाबू जो ऑटो मिस्त्री है और इन्ही की बेटी की शादी थीं।जिसका नाम राधा था बारात के रुकने का इंतजाम नव भारत सभा में किया गया था।शादी की सारी रश्में पूरी हो चुकी थीं। अब कन्या दान की विधि चल रही थीं।इसी बीच दुल्हन बानी राधा का छोटा भाई किसी आवश्यक कार्य के सिलसिले से सुबह पांच बजे निकला तभी अचानक से एक गम्भीर घटना घट गई असल में बात यह है की राधा का छोटा भाई आलू से भरे एक ट्रक के नीचे आ गया और भयानक रूप से बहुत जख्मी हो गया।

यह खबर घर वालो कर पास पहुँची वैसे है सारे घर वाले वहां पहुँच गए और तुरन्त उसे लोहिया अस्पताल ले के पहुँचे लेकिन अस्पताल पहुँचने तक शनी की साँसे निकल चुकी थी और जैसे ही यह जानकारी विवाह स्थल तक पहुँची सारी खुशियां मातम में बदल गई दुल्हन राधा का रो रोकर बुरा हाल हो गया और वह बेहोश हो गयी सारी खुशियाँ एक पल में समाप्त हो गई राधा दुल्हन के कपड़े में ही लोहिया अस्पताल पहुँच गई और जोर जोर से रोने लगी राधा अपने छोटे भाई का लाश देकर कर बहुत रोने लगी और बेहोश हो गई।